Sunday, 11 January 2015

कभी देखते आँखों में मेरी तो कसम खुदा की....
न खोजना पड़ता तुम्हे सारी दुनिया को....
मिल जाती मोहब्बत तुम्हे पहली नज़र में....
एक बार तो गौर से खोजा होता मेरी आँखों में....

No comments:

Post a Comment